Thursday, 25 February 2016

Filled Under:

Prabhu’s Era: Rail Budget 2016-17--comprehensive Study (english and hindi)

✨✨ Prabhu's Era: Rail Budget        2016-17
February 25, 2016
#railbudget

On 25th February 2016, Railway Budget for the fiscal year 2016-17 has been presented by Union Minister of Railways Suresh Prabhu.

The key budget document dubbed "Annual Financial Statement" aka "Budget Statement", showing estimated receipts and expenditure, has to be laid before Parliament in respect of every financial year which runs from 1st April to 31st March w.r.t Article 112 of the Constitution.

Before heading towards the complete highlights of the rail budget let's take a brief view on the history of rail budget:

In 1920-21, a 10 member Acworth Committee headed by British railway economist William Acworth made a "Acworth Report" which led to separation of railway finances of India from the general government finances in 1924.
The first live telecast of railway budget took place on 24 March 1994.
Lalu Prasad Yadav presented the railway budget 6 times in a row, as he remained the Railways Minister from 2004 to May 2009.
In 2000, Mamata Banerjee became the first women Railway Minister of India.
In 2002, she also became the first female Minister of Railways to present the Railway budget.
In 2014 railway budget, Railway Minister D. V. Sadananda Gowda announced the first bullet train and 9 High-Speed Rail of India.
Here are the complete Highlights of Railway Budget:

Slogan for all – "Sabka saath sabka vikas"
👉3R's of Budget – Restructure, Reorganize and Rejuvenate
👉Capital expenditure –
Rs 1, 21,000 crore.
Expected Operating Ratio – 92%.
👉Expected Revenues – Rs 1,84,820 cr next year.
👉Budgetary support from Govt – Rs 40,000 crore.
👉Saving from last year's estimates – Rs 8,720 crore.
👉Innovation grants to start-ups – Rs 50 crore
👉Head of innovative council of Indian Railways – Ratan Tata.
👉Insurance company agreed to fund Rs 1.5 lakh – LIC
👉Expenditure on Modernization of railway infrastructure in 5 years – Rs 8.5 lakh crore.
👉Elimination of unmanned level crossing – By 2020
👉Proposed freight corridors – Delhi-Chennai, Kharagpur-Mumbai, Kharagpur-Vijayawada.
👉Location of India's first rail auto hub – Chennai.
👉New name for coolies – Sahayaks (will be trained in soft skills)
👉North East India states to be connected through broad gauge – Mizoram & Manipur.
👉 Cabinet approval for joint ventures with state govts – 6 MoUs signed with state govts
👉Sub-quota for women in each of the reserved categories in catering – 33%.
👉 Increased in seat quota for senior citizens – 50%.
👉 Number of bio toilets & additional toilets in 475 stations – 17,000.
👉Publishing of magazine in all regional languages – Rail Bandhu
👉Initiation of WiFi services – 100 stations this year
👉Commissioning of new tracks – 2800 km
👉Electrification – 1,600 km in this year and 2,000 km proposed for the next year.

❌❌For Unreserved Passenger:

🚄Antyodaya Express – A long-distance, fully unreserved, superfast train service to be operated on dense routes.

🚄Two to four Deen Dayalu coaches will be introduced in some long distance trains for unreserved travel to enhance our carrying capacity for the masses.

❌❌For the reserved passenger – Humsafar, Tejas and UDAY:

🚄Humsafar – Fully air-conditioned third AC service with an optional service for meals.
🚄Tejas – Will showcase the future of train travel in India by operating at speeds of 130 kmph and above, it will offer onboard services such as entertainment, local cuisine, Wi-Fi, etc.
🚄UDAY – Utkrisht DoubleDecker Air-conditioned Yatri (UDAY) Express on the busiest routes, expected to increase carrying capacity by almost 40%.

❌❌SMART Coaches:

🚄New SMART (Specially Modified Aesthetic Refreshing Travel) coaches would cater to emerging needs of customers and also ensure lower unit cost of operations due to higher carrying capacity.

❌❌Ticketing facilities:
Plan to introduce bar-coded tickets on pilot basis to tackle menace of ticketless travel.

🚄Ticket vending machines – Initiating sale of platform tickets through ticket vending machines which would be made compatible with cash an
d credit/de
bit cards

🚄Intend sale of tickets through hand-held terminals for short-distance travellers.
Introduced 1,780
automatic ticket vending machines.

🚄E-ticketing facility – Railways will open the e-ticketing facility to foreign debit/credit cards for foreign tourists and NRIs.

🚄Enhanced capacity of e-ticketing system from 2000 tickets/min to 7,200/min.

🚄E-ticketing ticket facility on the concessional passes available to journalists.
Facility of cancellation of tickets through 139 telephone line.

❌❌Improving customer interface:

🚄FM Radio stations for providing train borne entertainment by installing PA systems in trains.
🚄GPS based digital displays inside coaches to provide real time information regarding upcoming halts.
🚄Wireless enabled "Rakshak" devices to intimate gangmen about approaching train.
🚄Drones to be used for remote monitoring of ongoing projects.
🚄2,500 water vending machines at railway stations have been provided.

❌❌Swach Rail:

🚄Clean my Coach Service – A passenger can request cleaning of his/her coach/toilets on demand through SMS.
🚄Installation of additional 30,000 bio-toilets in the next financial year.

❌❌IRCTC services & food availability:

🚅IRCTC will extending e-catering services from existing 45 large stations to all 408 'A-1' and 'A' class stations.
🚅Local cuisine of choice will be made available to passengers.
🚅Railwats will look at pilot availability of children's menu items on trains.
🚅Baby foods, hot milk and hot water would be made available on stations and changing boards for babies would be provided in train toilets.

❌❌Rail Mitra Sewa & Accessible India:

🚉Expanding of Sarathi Seva in Konkan Railway to help the old and disabled passengers requiring assistance at stations.
🚉To provide at least one Divyang friendly toilet at each platform in A1 class stations.
🚉To ensure availability of wheelchairs in sufficient numbers at A1 class stations.
🚉Battery operated cars and paid porters services for specially able people.
🚉Last but not the least – NO FARE HIKE!!!!

🚇🚇🚇🚇🚇🚇🚇🚇🚇🚇

Now updates in Hindi

-रेल किराये में इस बार बढ़ोतरी नहीं हुई।

-चार नई कैटेगरी के ट्रेनों की घोषणा। 

-हर श्रेणी के कोच में महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण।

-2020 तक 95 फीसदी ट्रेनें समय पर चलेंगी।

-ट्रेन के हर कोच में जीपीएस सिस्‍टम लगेंगे।

-अहमदाबाद-मुंबई हाई स्‍पीड ट्रेन चलेगी।

-2020 तक लोगों को जब चाहे तब टिकट मिलेगी।

-डबल डेकर उदय एक्‍सप्रेस की शुरुआत होगी।

- मांगा आधारित रेल डिब्बों की सफाई की व्यवस्था पेश होगी, अशक्त लोगों के लिए इस वर्ष 11 ए श्रेणी के स्टेशनों पर विशेष शौचालय बनाये जायेंगे।

- रेलवे के आरक्षण कोटे में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा।

- ट्रेनों में पायलट आधार पर बच्चों के खाने की अलग से व्यवस्था पेश होगी।

- रेलवे वरिष्ठ नागरिकों के लिए निचली सीट का कोटा बढ़ाकर 50 प्रतिशत करेगी: प्रभु।

- रेलवे बोर्ड का पुनर्गठन किया जाएगा।

- लाजिस्टिक और वेयरहाउस पार्क का विकास सार्वजनिक निजी साझेदारी के आधार पर होगा।

- भारत के पहले रेलवे आटो केंद्र का चेन्नई में जल्द ही उद्घाटन किया जाएगा।

- मुम्बई में दो एलिवेटेड उपनगरीय रेलवे कारिडोर चर्चगेट-विरार और सीएसटी-पणवेल का निर्माण किया जाएगा।

-अजमेर, अमृतसर, गया, मथुरा, नांदेड, नासिक, पुरी, तिरुपति, वाराणसी, नागपत्तनम और अन्य पर्यटन स्थलों का सौंदर्यीकरण किया जाएगा।

-रेलवे वरिष्ठ नागरिकों के लिए निचली सीट का कोटा बढ़ाकर 50 प्रतिशत करेगी : प्रभु।

-ट्रेनों में पायलट आधार पर बच्चों के खाने की अलग से व्यवस्था पेश होगी।

- अजमेर, अमृतसर, गया, मथुरा, नांदेड, नासिक, पुरी, तिरूपति, वाराणसी, नागपत्तनम और अन्य पर्यटन स्थलों का सौंदर्यीकरण किया जायेगा।

- ट्रेन में सफर के दौरान यात्रियों के बीमा की सुविधा होगी।

- ट्रेनों में दिव्‍यांगों के लिए अलग से टॉयलेट बनाए जाएंगे।

- लंबी दूरी की ट्रेनों में अतिरिक्‍त डिब्‍बे लगेंगे।

- दिल्‍ली में 21 नए स्‍टेशन बनाए जाएंगे।

- कुछ ट्रेनों में मनोरंजन के लिए एफएम की सुविधा दी जाएगी।

- हमसफर एक्‍सप्रेस पूरी तरह थर्ड एसी होगी।

-रेलवे के दो एप्‍प के जरिये टिकट बुक या कैंसिल होगी।

- अहमदाबाद से मुंबई हाई स्‍पीड ट्रेन चलेगी।

- 2020 तक ट्रेनों में जब चाहें तब टिकट मिलेंगी।

-अब कुलियों को सहायक कहा जाएगा, ट्रेनिंग भी मिलेंगी।  

-रात्रिकालीन चलने वाली डबल डेकर उदय एक्सप्रेस ट्रेन को व्यस्त मार्गो पर चलाया जायेगा। इन ट्रेनों में सामान्य ट्रेनों से 40 प्रतिशत अधिक यात्री सफर कर सकते हैं : रेल मंत्री।

-रेलवे में सभी पदों के लिए ऑनलाइन भर्ती होगी

- पांच साल में रेलवे प्रोजेक्‍टों पर साढ़े आठ लाख करोड़ रुपये खर्च होंगे

- रेलवे 40 नई परियोजना शुरू करेगी

- शताब्‍दी, राजधानी एक्‍सप्रेस में डिब्‍बे बेहतर किए जाएंगे

- नए एसी कोचों की संख्‍या बढ़ाई जाएगी

- वित्त वर्ष 2016-17 के लिए इस साल हमारा निवेश 1.21 लाख करोड़ रुपये रहेगा।

-अगले साल 2,800 किलोमीटर नए ट्रैक का परिचालन शुरू करेंगे।

- मंत्री ने कहा कि 400 स्टेशनों का सार्वजनिक निजी भागीदारी के जरिए आधुनिकीकरण किया जाएगा।

- प्रभु ने कहा कि 400 रेलवे स्टेशनों को वाय-फाय युक्त बनाया जाएगा, इस साल 100 स्टेशनों पर यह सुविधा होगी।

- 124 सांसदों ने सांसद निधि से यात्री सुविधाओं के विकास में योगदान करने की प्रतिबद्धता व्यक्त की : प्रभु ।

- रेल पुलों के निर्माण के लिए 17 राज्यों ने भारतीय रेलवे के साथ संयुक्त उद्यम बनाने पर सहमति व्यक्त की : रेल मंत्री ।

- रेल मंत्री ने कहा कि यात्रियों के किराये में सब्सिडी के चलते रेलवे को 30 हजार करोड़ रूपये का नुकसान ।

- रेलवे वित्त वर्ष 2017-18 में नौ करोड़ और वित्त वर्ष 2018.19 में 14 करोड़ मानव दिवस सृजित करेगा : प्रभु ।

- रेलवे को सरकार से 40,000 करोड़ रपए का बजटीय समर्थन मिलेगा।

- रेलवे विद्युतीकरण पर खर्च में 50 प्रतिशत वृद्धि, अगले वित्त वर्ष में 2000 किलोमीटर रेल मार्ग का विद्यतीकरण किया जायेगा : सुरेश प्रभु ।

- अगले साल 2,800 किलोमीटर नए ट्रैक का परिचालन शुरू करेंगे।.

- हमने बड़े पैमान पर लंबित पड़े पुराने कार्यो को पूरा करने और भविष्य की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए पूंजी व्यय को मजबूत बनाया है और पूंजी व्यय की दर बढायी है : रेल मंत्री ।

- वित्त वर्ष 2016-17 के लिए इस साल हमारा निवेश 1.21 लाख करोड़ रपए रहेगा।

- वित्त वर्ष 2015-16 के बजट में बिजली समेत ईधन लागत में 8,720 करोड़ रूपये की बचत : प्रभु ।

- हमें उम्मीद है कि परिचालन अनुपात वर्तमान वर्ष के 90 प्रतिशक की तुलना में 92 प्रतिशत होगा : प्रभु ।

- तीन सीधी और पूर्णत: वातानुकूलित 'हमसफर' रेल गाड़िया 130 किलोमीटर प्रति घंटे के रफ्तार से चलेंगी।

-कुछ चुनिंदा स्टेशनों पर पायलट आधार पर बार कोड वाले टिकट की शुरुआत होगी।

-पत्रकारों के लिए रियायती दर पर टिकटों की ई-बुकिंग पेश की गई।

- शुल्क राजस्व के अतिरिक्त राजस्व के नये स्रोतों का दोहन करेंगे : रेल मंत्री ।

- मुख्य उद्देश्य रेल को आर्थिक वृद्धि का इंजन बनाना, रोजगार पैदा करना और उपभोक्ताओं को बेहतर सुविधाएं देना है : सुरेश प्रभु ।

- रेल मंत्री ने कहा कि ये चुनौतियों का समय और सबसे कठिन दौर है जिसका हम सामना कर रहे हैं।

-वित्त वर्ष 2016-17 में रेलवे पूरी तरह से कागज मुक्त अनुबंध व्यवस्था को अपना लेगा : प्रभु ।

- पिछले वर्षों की तुलना में रेलवे का इस वर्ष का सुरक्षा रिकार्ड बेहतर लेकिन अभी भी बहुत कुछ करने की जरूरत है : रेल मंत्री ।

0 comments:

DOWNLOAD EBOOKS